Galaxy Facts in Hindi | हैरान करने वाले आकाशगंगा से जुड़े रोचक तथ्य

इस पेज पर आप Galaxy Facts in Hindi की जानकारी विस्तार से पढ़ेंगे।

पिछली पोस्ट में हमने Technology Facts in Hindi की जानकारी शेयर की थी तो उस पोस्ट को भी पढ़े।

चलिए आज हम Galaxy Facts in Hindi की जानकारी को पढ़ते और समझते हैं।

Galaxy Facts in Hindi

1. हमारा सौरमंडल पांच लाख मील प्रति घंटा की रफ्तार से घूम रहा है इस रफ्तार से भी हमें आकाशगंगा का एक चक्कर लगाने में 25 करोड़ साल का वक्त लग जाएगा आखिरी बार जब हमारे सौरमंडल ने आकाशगंगा का चक्कर लगाया था तो 4.5 अरब साल पुरानी हमारी पृथ्वी पर डायनासोर अभी सामने आ रहे थे।

2. आकाशगंगा के बिल्कुल बीचो-बीच एक विशालकाय ब्लैक हॉल है, जो हमारे सूरज के वजन से 40 लाख गुना ज्यादा वजनी है. अभी तक किसी ने इस ब्लैक हॉल को सीधे तौर पर नहीं देखा है, लेकिन ये गैस और धूल के पीछे छिपा हुआ है।

3. आकाशगंगा चारों ओर हजारों प्रकाश वर्ष की दूरी तक फैली हुई है, लेकिन इसकी मोटाई कुछ हजार प्रकाश वर्ष ही है इस तरह ये एक डिस्क की तरह है, जिसमें धूल, ग्रह और तारें मौजूद हैं हमारा सौर मंडल आकाशगंगा के केंद्र से 26 हजार प्रकाश वर्ष दूर है।

4. अरबों की संख्या में तारें आकाशगंगा में मौजूद हैं इनमें से कुछ तारे काफी धीमी रोशनी और कम वजनी हैं हमारा सूरज भी उन्हीं तारों में से एक है वैज्ञानिकों का कहना है कि हमारे आकाशगंगा में करीब 300 से लेकर 400 अरब तारें मौजूद हैं।

5. करीब चार अरब साल बाद आकाशगंगा अपने नजदीकी एंड्रोमेडा आकाशगंगा से टकरा जाएगी वर्तमान समय में दोनों आकाश गंगाएं 2.5 मील प्रति घंटा की रफ्तार से एक दूसरे की ओर बढ़ रही हैं जब ये दोनों टकराएंगी तो कुछ तारों को खासा नुकसान पहुंचेगा हालांकि, हमारी पृथ्वी इस टक्कर में सुरक्षित बच जाएगी।

6. आकाशगंगा 150 से अधिक प्राचीन सितारों के समूह से घिरा हुआ है, जिनमें से कुछ ब्रह्मांड में सबसे पुराने तारें हैं ये गोलाकार तारों के समूह आकाशगंगा के डार्क हालो में मौजूद हैं और इसके केंद्र का चक्कर लगाते हैं।

7. आकाशगंगा में अंधेरा पदार्थ बड़ी संख्या मे फैला हुआ है, इसे डार्क हालो कहा जाता है ये हमारी आकाशगंगा से कहीं अधिक विशाल है डार्क हालो को हम पृथ्वी से भी साफ तौर पर देख पाते हैं।

8. हमारी आकाशगंगा उन सभी आकाशगंगाओं को निगल जाती है, जो इसके करीब आती हैं सालों से वैज्ञानिकों ने ऐसे तारों का पता लगाया है, जिनकी आकाशगंगा को हमारी आकाशगंगा ने निगल लिया है।

9. आकाशगंगा बेहद ही गर्म गैस और काफी एनर्जी वाले पार्टिकल्स को बड़े पैमाने पर बुलबुले की तरह उड़ा रही है ये बुलबुले आकाशगंगा के केंद्र से बाहर निकल रहे हैं और इनकी रफ्तार 20 लाख मील प्रति घंटा है. वैज्ञानिकों का मानना है कि ये मृत तारों की वजह से बाहर निकल रहे हैं।

10. ग्रीन बैंक टेलीस्कोप के साथ हाल ही में देखा गया 100 से अधिक हाइड्रोजन गैस बादल 738,000 मील प्रति घंटे पर आकाशगंगा के कोर से दूर जा रहे हैं इसका अध्ययन करने वाले वैज्ञानिकों का कहना है कि ये गैस के बुलबुले बनाने में मदद करते हैं।

11. आकाशगंगा बेहद ही गर्म गैस और काफी एनर्जी वाले पार्टिकल्स को बड़े पैमाने पर बुलबुले की तरह उड़ा रही है. ये बुलबुले आकाशगंगा के केंद्र से बाहर निकल रहे हैं और इनकी रफ्तार 20 लाख मील प्रति घंटा है वैज्ञानिकों का मानना है कि ये मृत तारों की वजह से बाहर निकल रहे हैं।

12. ग्रीन बैंक टेलीस्कोप के साथ हाल ही में देखा गया 100 से अधिक हाइड्रोजन गैस बादल 738,000 मील प्रति घंटे पर आकाशगंगा के कोर से दूर जा रहे हैं इसका अध्ययन करने वाले वैज्ञानिकों का कहना है कि ये गैस के बुलबुले बनाने में मदद करते हैं।

13. हमारा सौरमण्डल जिस आकाशगंगा में है उसे Milky Way कहा जाता है। Milky Way में करोड़ों सौरमण्डल है और इन करोड़ों सौरमण्डल में से एक हमारा सौरमण्डल है जिसमे हमारी धरती है।

14. हमारी आकाशगंगा तस्तरी की भांति गोल और चपटी है जिसके सर्पिल भुजाए है।

15. इस आकाशगंगा के एक सिरे से दूसरे सिरे तक कि दूरी 1 लाख प्रकाश वर्ष है और हाँ दोस्तो हमारा सौरमण्डल हमारी आकाशगंगा के साढे 33 करोड़ वे हिस्से के बराबर है।

16. हमारी आकाशगंगा में 400 अरब के आसपास तारे है और इन तारो में से एक हमारा सूरज Sun है।

17. हमारी आकाशगंगा के केंद्र में एक विशालकाय ब्लैक होल Black Hole है। इसका द्रव्यमान 40 लाख सूर्य के बराबर है। इसकी गुरुत्वाकर्षण की शक्ति इतनी प्रबल होती है कि प्रकाश की किरण भी इसमें से नही गुजर पाती इसीलिए ब्लैक होल काला होता है क्योंकि इसमें प्रकाश नही होता है।

18. अब तक ब्रह्मांड के जितने भाग का पता चला है उसमें लगभग ऐसी ही १९ अरब गैलेक्सीएँ होने का अनुमान है। ब्रह्मांड के विस्फोट सिद्धांत (बिग बंग थ्योरी ऑफ युनिवर्स) के अनुसार सभी गैलेक्सीएँ एक दूसरे से बड़ी तेजी से दूर हटती जा रही हैं। ब्रह्माण्ड में सौ अरब गैलेक्सी अस्तित्व में है

19. आकाशगंगा तारों , तारकीय अवशेषों , अंतरतारकीय गैस , धूल और काले पदार्थ की एक प्रणाली है जो गुरुत्वाकर्षण द्वारा एक साथ बंधी होती है।

20. अकेले प्लैंक 2018 डेटा के आधार पर ब्रह्मांड की आयु सबसे उपयुक्त है 13.787 ± 0.020 अरब वर्ष

21. आकाश गंगा या क्षीरमार्ग उस आकाशगंगा (गैलेक्सी) का नाम है, जिसमें हमारा सौर मण्डल स्थित है।

22. पृथ्वी स्थानीय समूह की दूसरी सबसे बड़ी आकाशगंगा में है – एक आकाशगंगा जिसे मिल्की वे कहा जाता है। आकाशगंगा एक बड़ी सर्पिल आकाशगंगा है।

23. पृथ्वी आकाशगंगा की सर्पिल भुजाओं में से एक में स्थित है (जिसे ओरियन भुजा कहा जाता है) जो आकाशगंगा के केंद्र से लगभग दो-तिहाई दूरी पर स्थित है।

24. आकाशगंगा तारों , तारकीय अवशेषों , अंतरतारकीय गैस , धूल और काले पदार्थ की एक प्रणाली है जो गुरुत्वाकर्षण द्वारा एक साथ बंधी होती है।

25. 2000 के दशक की शुरुआत में, वैज्ञानिकों ने अनुमान लगाया कि ब्रह्मांड में 200 अरब आकाशगंगाएँ थीं। हालाँकि, 2016 में, नॉटिंघम विश्वविद्यालय में किए गए हबल स्पेस टेलीस्कोप डेटा के एक सर्वेक्षण में पाया गया कि अवलोकन योग्य ब्रह्मांड में आकाशगंगाओं की कुल संख्या कम से कम 10 गुना थी।

READ MORE :
GK FactsInteresting FactsAmazon Fact
Technology FactsGeneral Knowledge FactsGeography Facts

उम्मीद हैं आपको Galaxy Facts in Hindi की जानकारी पसंद आयी होगी।

यदि आपको Galaxy Facts in Hindi की जानकारी पसंद आयी हो तो Galaxy Facts in Hindi के इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिए।

Leave a Comment