Aadhaar Enabled Payment System (AEPS) – पैसा withdrawl का आसान तरीका

aadhaar-enabled-payment-system-aeps-in-hindi

नमस्कार दोस्तों , जैसे की आप सबको पता है की भारत एक ग्रामीण पूर्ण देश है इसीलिए हर कोई सरकार के द्वारा दिया जाने वाला हर सुबिधा का लाभ उठाने से बंचित होजाता है। इनमे से एक है बैंकिंग की सुबिधा। इसका कारण यह है की हर गाओं में bank का शाखा महजूद नहीं होता ,कुछ भी ज़रूरत आने पर बहोत दूर जाना पड़ता है। इसका समाधान हेतु सरकार ने Aadhaar Enabled Payment System in Hindi का इज़ात किया जिसे की short में AEPS भीं कहा जाता है।

Bank कितना ज़रूरी है यह तोह सबको पता है , अगर ऐसे में कोई ऐसी सुबिधा आ जाये जो की banking को आपके गाओं ,आपके घर तक ले आये तोह कैसा होगा। AEPS ऐसा ही एक सुबिधा है जिसके बारेमे सबका जानना आबश्यक है।

इस लेख में आज आपको मैं इसके बारेमे पूरी जानकारी जैसे की AEPS क्या होता है , इसका लाभ क्या क्या है , इसका लाभ कैसे उठाये ,इसके लिए क्या क्या करना पड़ता है ,charges कितना है यह सब देने वाला हूँ।

Aadhaar Enabled Payment System – Easy way of Getting Banking Service

AEPS एक easily available payment service है जो की bank customers को बिना किसी passbook और ATM card के सिर्फ Aadhaar card और fingerprint से transaction करने का सुबिधा प्रदान करता है।

इसके ज़रिये कोई भी ब्यक्ति जिसका bank account है वह इस सुबिधा का लाभ उठा सकता है वह भी अपने घर बैठे या फिर निकट post office शाखा में जाकर।

जिस जगह Bank की शाखा available नहीं था वहां पर यह सुबिधा life saver बनकर उभर कर आयी। अब किसीको दूर शाखा में जाना नहीं पड़ता , इसका लाभ किसी भी Business correspondent को घर बुलाकर या फिर उसके पास जाकर उठाया जा सकता है। जो ब्यक्ति इस कार्य केलिए निजुक्त होता है उसे business correspondent कहते हैं।

यह सब कार्य पूरा हो पाता है एक PoS ( Micro ATM ) से जो की उनको दिया गया होता है। यह PoS device के वजह से transaction करने केलिए सिर्फ Bank का नाम ( IIN ) , UIDAI number (आधार) और fingerprint की ज़रूरत पड़ती है। इसमें customer कुल 6 तरह का सुबिधा प्राप्त कर सकता है जिनके बारेमे हम आगे पढ़ने वाले हैं।

IIN का full form है Issuer Identification Number जो की refer करता है किसी bank को। यह एक 8 digit number है जो की bank के द्वारा issue किया गया Credit ,Debit card के first 8 digit को दर्शाता है।

UADAI का full form है Unique Identification Authority Of India . यह एक ID number जो की Government Of India के द्वारा issue किया गया personal identification number है। इसका सीधा meaning Aadhaar Card के number को सूचित करता है।

इसे बनाने का मकसद

इसे सेवा को बनाने के पीछे सिर्फ एक ही मकसद है और वह है देश में Financial समाबेश को आगे बढ़ाना। भारत में Aadhaar का महत्व क्या है यह तोह सबको पता है ,इसीलिए इसे ही जरिया बनाके payment system को आगे बढ़ाने केलिए AEPS को introduce किया गया।

इसके पीछे और भी motives हैं जो की indirectly जनसाधारण से जुडी हुई है जिसके बारेमे मैंने निचे बताया है।

  • Bank के उपभोक्ता को Aadhaar इस्तेमाल करने केलिए बढ़ावा देना , क्यों की यह एक ही मात्र identity है जो की fully Govt approved है। आधार का इस्तेमाल कर इस सुबिधा का लाभ उठाने का बढ़ावा देना।
  • Government of India और RBI का finacial समाबेश को आगे बढ़ाना।
  • Digital payment system को आगे बढ़ाना।
  • Handicapped Old age Pension scheme, Social security Pension और NREGA को आसानी से लोगों तक पहचाना आधार के माध्यम से।
  • सठिक और सुरक्षित तरह से Banks के बीच अच्छा रिश्ता स्तापन करना।
  • Aadhaar Enabled Banking Services को बढ़ाने केलिए एक छोटा foundation बनाना।

 

कौन कौनसे सुबिधाये उपलब्ध है 

AEPS को इसीलिए बनाया ही गया है की लोगों को आसानी से bank के जैसे सुबिधा प्रदान किया जा सके , इसके ज़रिये हम 6 तरह का transaction का सुबिधा प्राप्त कर सकते हैं।

  1. Balance Enquiry
  2. Cash Withdrawal
  3. Cash Deposit
  4. eKYC
  5. Mini Statement
  6. Aadhaar to Aadhaar Fund Transfer
  7. Pull Money

AEPS का लाभ कैसे उठायें

इसे बनाने का पीछे मकसद ही कुछ ऐसा था की कैसे यह ज्यादा से ज्यादा लोगों तक आसानी से पहंच सके इसीलिए आधार का इस्तेमाल किया गया। यह एक ऐसा payment service है जो की भारत के हर कोने में महजूद है। इसे कोई भी नज़दीकी bank में , post office में या फिर किसी business correspondent के मदद से किया जा सकता है।

aadhaar-enabled-payment-system-aeps-in-hindi

इसका लाभ उठाने का तरीका कुछ इस तरह का है ⇒

⇒ सबसे आसान तरीका है जो की हर जगह महजूद है वह है Post office। आप निकट post office में जाकर वहां के Branch Post Master के ज़रिये इसका लाभ उठा सकते हैं। यह सब होता है है एक Micro ATM से जो की आपके Aadhaar number और fingerprint को authorize करता है और banking सुबिधा provide करता है। 

⇒दूसरा तरीका है Business Correspondent। जान सेवा केंद्र एक ऐसा जगह है जहाँ पर आपको correspondent मिल जायेंगे। उनसे आप यह सुबिधा का लाभ उठा सकते हैं। 

⇒अगर आपके पास किसी दूसरे bank की शाखा महजूद है तोह वहां जा कर आप बिना किसी passbook से transactions कर सकते हैं। 

क्या क्या Documents required होते हैं

यह भी एक ज़रूरी जानकारी है जो की सबको पता होनी चाहिए। सिर्फ आधार number और fingerprint ही काफी नहीं है transaction को अंजाम देने केलिए। इसके लिए ज़रूरत पड़ती कुछ और details की जो की निचे लिखा गया है।

  • UADAI Number मतलब आपका Aadhaar Number
  • Fingerprint
  • Bank IIN or Branch Name
  • Mobile number linked to Aadhaar

क्या यह Secure है

जी हाँ , यह पूरी तरह secured है।

NPCI ( National Payment Corporation Of India ) के द्वारा यह introduce किया गया है जो की fully Govt approved संस्था है यह कारण काफी है आपको यकीन दिलाने केलिए की आप इसे अंधे आँख से भी भरोसा कर सकते हैं।

Aadhaar Enabled Payment System – Frequently Asked Questions

1 . eKYC क्या है ?

किसी भी ब्यक्ति का details जिसे की bank के भाषा में KYC कहते हैं Electronically authenticate करने को eKYC कहते हैं।

2 . Bank Pull Money क्या है ?

Bank Pull Money एक ऐसा सुबिधा है जिसके मदद से आप अपने bank से money pull करके अपने digital walet पर ला सकते हैं। यह सिर्फ BC के मदद से ही हो सकता है।

3 . AEPS का Transaction limits कितना है ?

AEPS का transaction limit को कुछ Banks केलिए सिमित रखा गया है जहाँ की UGB और SBI केलिए कोई सीमा नहीं है।

4 . AEPS से transaction करने पर कितना शुल्क (Charges) कटता है ?

अभी तक इस सुबिधा से कोई भी शुल्क ज़ारी नहीं किया गया है।

5 . Issuer Bank का मतलब क्या है ?

इसका मतलब होता है जिस bank पर user अपना खता बनाया हुआ हो।

6 . PoS device क्या होता है ?

यह एक portable hardware है जिसे की retail location पर card payment केलिए इस्तेमाल किया जाता है।

 

Also Read

CONCLUSION

आशा करता हूँ की मेरा यह लेख जो की Aadhaar Enabled Payment system in Hindi के ऊपर है आपको इसके बारेमे सठिक जानकारी देने में सफल रही। अगर आप अभी तक इसके बारेमे अबगत नहीं थे तोह यह मुझे यकीन है की आपको इससे बहोत कुछ जानकारी प्राप्त हो गया होगा। अगर इसके बारेमे कुछ और सवाल है तोह आप निचे comment करके पूछ सकते हैं।

Sharing is Caring

 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments