Home » Blog » Blogging » SEO Friendly Article कैसे लिखे

SEO Friendly Article कैसे लिखे

Seo friendly article kaise likhe

SEO Friendly article कैसे लिखे , यह सवाल अक्सर लोगों से पूछा जाता है , क्यूंकि यह ही वह चीज़ है जिसके ज़रिये आप Google SERP पर top position पाते हैं और उससे आपको traffic मिलता है।

अगर आप blogging के दुनिया में ए हुए बहोत time हो गया है फिर भी आपका article rank नहीं कर रहा तोह आप SEO के concept से अभीतक अनजान हैं। SEO वह चीज़ है जो आपको top पर पहँचायेगा। आपको article लिखना नहीं आता। मुझे भी पहले problem होता था initial stages मैं लेकिन खुदको थोड़ा समय दिया और consistency बनाकर एक SEO friendly article को कैसे लिखते हैं वह सीखा। आज मेरे बहोत से article top पर rank कर रहे हैं।

आप बिलकुल सही जगह आये हैं मैं आज इस लेख के ज़रिये वह हर चीज़ को बताने की कोशिश करूँगा जो की एक article को complete करता है। Keyword research से लेकर article publish करने तक। मुझे उम्मीद है की इससे आप को थोड़ा बहोत idea मिल जायेगा की एक SEO friendly article kaise likhe .

आपको इस article मैं क्या क्या सिखने को मिलेगा –

  • Article केलिए सही keyword कैसे चुने
  • Keyword stuffing कैसे करे
  • Post title को seo friendly कैसे बनाये
  • Headings और subheadings कैसे रखे
  • image optimization कैसे करते हैं
  • Alt tag कैसे लिखें
  • Content idea कैसे ढूंढे
  • Linking कैसे करे  Etc .

चलिए सीधा content पर आते हैं।

 

SEO Friendly article कैसे लिखे और यह क्यों ज़रूरी है 

 

एक blogger का क्या aim रहता है , की उसे एक अच्छा article लिखना है और google पर rank कराना है। आप जब कुछ search करते हो तोह क्या आप 6 , 7 number page तक जाते हो नहीं न , इसीलिए article को कुछ तरह optimize करना पड़ता है ताकि वह 1 या 2 number page पर rank करे।

Article को SEO friendly बनाने से हमे क्या क्या फायदा मिलता है।

 

SEO Friendly article कैसे लिखे

 

Choose Correct keyword

 

Article तभी rank करता है जब आपका keyword सही हो। हमेशा एक ऐसा keyword का चयन करें जिससे की लोग ज्यादा से ज्यादा search करते हैं। आपको इसके लिए user intend को समझना पड़ेगा की लोग आपसे क्या expect कर सकते हैं ,अगर आपने उन्हें वह देदिया अपने article में तब article ज़रूर rank करेगा।

SEO Friendly correct keyword SEO Friendly kaise likhe

आप जब keyword research करेंगे तोह आपको बहोत से keyword मिल जायेंगे पर आपको वह keyword choose करना है जहाँ पर search volume ज्यादा हो और competition कम हो .

फिर उस exact keyword को अपने article में इस्तेमाल करिये।

 

Use LSI keyword

 

LSI keyword का full form है Latent semantic indexing यह कुछ हद्द तक Long tail keyword की तरह होता है। पर इन दोनों में यह फरक होता है। फरक यह है की LSI keyword मतलब आपके keyword का related keyword का long version है और Long tail keyword एक keyword का modify version है जिसे user के search queries के अनुसार lenghty कर लिया गया हो।

SEO Friendly LSI selection

LSI keyword का इस्तेमाल करने से आपको ज्यादा visibility मिलता है और search engine को उसे rank कराने में आसानी होती है। क्यूंकि आप exactly उस query पर article लिख रहे हैं जो की लोगों द्वारा search किया जा रहा है।

आप जब भी इस प्रकार के keyword को इस्तेमाल करें हमेशा 1st paragraph और last paragraph पर इस्तेमाल करें।

 

Use related keyword

 

क्या आपको पता है की जो भी article google के top position पर rank करते हैं , वह सब एक keyword पर नहीं बल्कि ऐसे काईन और related keyword पर भी रैंक करते हैं। उदाहरण के तौर पे मैंने एक article लिखा था PPI क्या है के ऊपर वह उसी keyword पर अभी top पर rank कर रहा है और साथ ही दो तीन और keyword पर भी rank कर रहा है।

SEO Friendly article kaise likhe

Related keyword इस्तेमाल करने से आपको आसानी से ranking मिलता है और traffic भी।

आप Google suggestion tool का इस्तेमाल करके related keyword को find कर सकते हैं।

 

Title optimization

 

जब कोई आपके blog पर आता है वह आपका एक catchy attractive सा title देख कर ही आता है।

अगर आपका title है मान लीजिये Top 25 Amazing places on Earth है यह कितना अच्छा लग रहा है , पर title Amazing places on Earth है तोह कोई क्यों आएगा।

1st impression हमेशा best होना चाहिए ,इससे फरक नहीं पड़ता की आप post के भीतर क्या लिखे हो अगर आपका title अच्छा ना हो तोह कोई उसे पढ़ने नहीं आएगा।

पर Ranking केलिए आपको अपना title को कुछ इस तरह optimize करना होगा जिससे की वह attractive दिखने के साथ साथ SEO friendly भी हो।

SEO Friendly post title optimization

अपना focus keyword को title में feed करें ,title के starting में अगर हो सके तोह अच्छा है अगर ना भी तोह उतना फरक नहीं पड़ेगा।

 

Good Headings and Sub-Headings

 

Headings बहोत ज़रूरी होता है। अगर आप एक long article लिख रहे हो तोह heading के मदद से आप उन्हें section wise बाँट सकते हो की कौनसा section में कौनसा content लिखे तोह अच्छा होगा।

Generally आपका title H1 tag में होता है तोह आपको अपने article के अंदर H1 इस्तेमाल करने की कोई ज़रूरत नहीं है। हमेशा ध्यान रहे की article में एक ही H1 टैग हो।

Introduction के बाद H2 tag में अपना पहला heading दे। उस heading में आप जिस keyword के ऊपर article लिख रहे हैं उसे add करें। हमेशा अपने article पर H2 tag वहीँ पर इस्तेमाल करें जो की आपका main heading है और sub categories पर आप H3 ,H4 इस्तेमाल करें।

Headings इस्तेमाल करने से लोगों को navigate करने में मदद मिलता है और वह easily आपके article को पढ़ पाते हैं।

 

Analyze your Competitor article

 

Keyword research कर लिए , Title भी optimize कर लिए पर आपको यह नहीं पता की content मैं क्या लिखूं जो वह rank करेगा। आप अगर खुद से सब कुछ लिखेंगे बिना कुछ research किये तोह वह कभी भी रैंक नहीं कर पायेगा।

आपको यह देखना होगा की उस keyword पर जो पहले से rank कर रहे हैं उन्होंने ऐसा क्या क्या लिखा है जो rank कर रहे हैं। आपको उनसे बेहतर लिखना है। अगर आपका article में बेहतर content हैं बाकि bloggers से तभी तोह वह कुछ value provide करेगा।

काम से काम 1st page पर जितने भी contents हैं उनको analyze कीजिये और वह points को ढूंढिए जो उनमे होना चाहिए और उनमे नहीं है फिर आप जो points उनमे हैं वह लिखने के साथ साथ वह points भी लिखे जो उनमे नहीं हैं।

Analyze करने से मेरा मतलब यह नहीं की आप उनसे copy करें , आप उनसे बस idea लीजिये की क्या क्या लिखना चाहिए और क्या लिखना होगा की उनसे आपका article बेहतर हो।

 

Image Optimization

 

मैंने Image optimization कैसे करे के ऊपर एक dedicated article पहले से लिखा है जहाँ आप पूरी जानकारी पा सकेंगे। लेकिन फिर भी मैं यहाँ briefly समझने की कोशिश करूँगा अगर आपको पूरी जानकारी चाहिए तोह इस link के ज़रिये उसे पढ़ लीजिये।

SEO Friendly image optimization

Image optimization का मतलब है की आपको अपना अपना image को कुछ इस तरह optimize करना होगा की वह SEO के rules को follow करे और bot को समझने में मदद करे की यह image किस related है।

Image optimization के कुछ basic rules हैं जिन्हे आपको follow करना होगा। जैसे की

  • Use a related image
  • Use your keyword as alt tag 
  • Rename it as per your Keyword
  • Compress it’s size for speed
  • Change it’s resolution

 

Meta description

 

एक catchy title के बाद जो दूसरा element है जिसपर लोगों का नज़र पड़ता है वह है आपका meta description Meta description का मतलब आपके article का एक short description जिससे की थोड़ा बहोत अंदाज़ा लगता है की अंदर क्या मिलने वाला है।

SEO Friendly meta description

मेरा सलाह यह होगा की आप meta को modify करने में ज्यादा समय waste ना करें।

इसे आसानी से आप seo friednly बना सकते हैं simply अपना keyword को एक related keyword के साथ जोड़के एक short description लिखिए।

SEO Friendly article कैसे लिखे

 

Interlinking

 

Backlink के साथ साथ अगर आपका authority बढ़ाने में अगर कोई मददगार होता है तोह वह है आपका internal linking structure आपका internal linking जितना अच्छा होगा उतना ही आपके website पर link juice flow होगा और authority बढ़ेगा।

पर authority के बारेमे हम यहाँ नहीं करेंगे ,हमे अपना article को SEO friendly बनाना है।

एक quality article लिखते वक़्त ऐसे बहोत से term आते हैं जिन्हे हम वहां पर अच्छे से describe नहीं कर सकते पर उन्हें समझे बिना को आगे बढे तोह उसे कुछ समझ में नहीं आएगा। इसीलिए उन्हें उस concept से पहचान कराने केलिए internal linking किया जाता है।

जितना ज्यादा आप internal करेंगे उतना ही clearly readers आपके content को पढ़के समझ सकेंगे। हमेशा एक ऐसे anchor के साथ अपना link डालें जो की keyword riched हो। ऐसे की irrelevant pages को link ना करें इससे अप्पके SEO के ऊपर गलत प्रभाव पड़ेगा।

 

Outbound link

 

जो लिंक आपके site से किसी दूसरे site पर जा रहे हैं तोह उन्हें outbound link अथबा External link कहते हैं।

External link भी एक article केलिए उतने ही ज़रूरी हैं जितने की Internal link .

जब भी आप external link दे रहे हैं ध्यान रखे की वह nofollow हो क्यूंकि अगर आपका सब link dofollow हैं जो यह अच्छा नहीं है। इसीलिए दोनों प्रकार के link का इस्तेमाल करते हुए हमेशा balance बनाये रखें।

 

Write Long article

 

एक short 200 word के article आप क्या समझा पाओगे लोगों को , इतना तो introduction लिखने में ही ख़तम हो जायेगा। ज्यादा word count वाला article लिखने से आप अच्छे से concept को समझा पाओगे ,एक भी point आपका मिस नहीं होगा।

और वैसे भी Research के अनुसार Google के top results में जितने भी pages होते हैं उनके average word count 2000 से ज्यादा होते हैं।

इससे आपका एक और फायदा भी हो सकता है। अपने देखा होगा की अब Adsense में Low value content का error आ रहा है , low word count भी इसका एक reason है। अगर आपको भी यह error आ रहा है तोह आप मेरा यह Adsense low value content problem fix guide को पढ़ सकते हैं।

 

Grammar 

 

Grammar बहोत बड़ा role play करता है एक अच्छा reading experience देने मैं। अगर आपके article में बहोत से शब्द ऐसे हैं जिनमे ग्रामर mistakes हैं कोई भी उसे पढ़के जल्दी से page को exit मार्के चला जायेगा।

अच्छा grammar का होना बहोत ज़रूर है। इससे आपका engagement बढ़ेगा और analytics में average session duration भी बढ़ेगा। फिर आका आर्टिकल easily Rank कर पायेगा।

Grammar correction करने केलिए आप Grammarly का इस्तेमालकर सकते हैं। आप इससे free में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

 

Use proper tags

 

अगर आप WordPress इस्तेमाल कर रहे हैं तोह आप देखे होंगे एक tag का option भी होता है जिसमे आपको tags लिखने होते हैं। यह identify करने में मदद करते हैं की आपका आर्टिकल किस related हैं।

जो keywords को आप article के अंदर इस्तेमाल नहीं कर सके उन्हें आप tags में include करिये और साथ ही अपना मैं keyword को भी include कीजिये।

 

Url / permalink Structure Optimization

 

मान लीजिये आप कुछ search कर रहे हैं और आपक कुछ इस तरह का Link मिला  ” https://factshop.net/seofriendlyarticle335372$2/ ” क्या आप उसे click करेंगे ? और अगर आपको कुछ इस तरह का link “https://factshop.net/seo-friendly-article-kaise-likhe/” मिले तोह आप ज़रूर यहाँ जाना पसंद करोगे।

आप url से ही clearly देख सकते हैं की आपको article के अंदर क्या मिलने वाला है। और एक बढ़िया चीज़ यह है की आप खुद से जैसे चाहे इन Url को बदल सकते हैं।

SEO Friendly permalink structure optimization

Url को SEO Friendly बनाने केलिए आपको कुछ steps follow करना होगा। जैसे की

  • Use hyphen (-) in between words
  • Use your keyword in url
  • Do not use more than 5 words
  • Do not use special characters like *,#,@ etc 

 

SEO Friendly Article कैसे लिखें – CONCLUSION

 

उम्मीद है की आपको मेरा यह लेख SEO Friendly Article कैसे लिखे समझ आ गया होगा। आप इसे अपने article लिखने के समय follow कर अपना article को rank करा सकते हैं। SEO Friendly Article kaise likhe अगर आपको समझ में आ गया तोह आप SEO के लगभग 40 % concept को समझ लिए। बस थोड़ा consistency बनाये रखे और सीखते रहे।

अगर आपको इस आर्टिकल SEO Friendly Article कैसे लिखे के बारेमे कुछ और जानना है या फिर कुछ कमी लगा या फिर आपको कैसा लगा comment करके ज़रूर बताएं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments