Newsmeto.com के founder Mr. HP Jhinjholiya जी का Interview

Newsmeto founder HP jhinjholiya interview

life में आगे बढ़ने केलिए हमे जो सबसे ज़रूरी चीज़ ज़रूरत पड़ती वह है Motivation इसके बिना हम कोई भी काम को पूरा नहीं कर पाते। इसीलिए में India के top bloggers का interview लेता हूँ और कोशिश करता हूँ की जितने भी नए bloggers हैं उनको कुछ motivation दी सकूँ।

आज के दिन blogging के बारेमे किसको नहीं पता। हर दिन कितने लोग blogging करने का सोचते हैं और शुरू कर देते हैं पर होता क्या है , वह give up कर देते हैं और छोड़ देते हैं। मेरे साथ भी पहले पहले ऐसा ही हुआ था लेकिन खुद को मैंने motivate किया और फिर से blogging start की।

आज मैं ऐसे एक सक्षका interview लेने जा रहा हूँ जिन्होंने बुल्कुल zero से शुरुवात करि थी और आज उनका blog india के leading blogs मैं से एक है। मैं बात कर रहा हूँ की Newsmeto.com की , आप अगर blogging के field में हैं तोह इनको ज़रूर जानते होंगे।

सबसे पहले मैं Newsmeto के founder श्री HP jhinjholiya का मेरे blog पर स्वागत करता हूँ और धन्यबाद करता हूँ की आपने इस interview request को स्वीकार किया।

चलिए हम जी से पूछे गए सवालों पर आते हैं।

 

अनुक्रम

Newsmeto Interview Questions 

 

1. आपके बारेमे और आपके ब्लॉग्गिंग journey के बारेमे कुछ बताईये । 

मेरा नाम HP Jinjholiya है और हरियाणा शहर के पानीपत का रहने वाला हूँ साथ ही गूगल से लेकर सभी पॉपुलर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध हूँ और हर ब्लॉगर की तरह मैंने भी अपनी ब्लॉगिंग Journey की शुरुआत 2017 में Blogger.com से की थी।
आप लोगों के प्यार से हमारा वेबसाइट बहुत तेजी से इंटरनेट की दुनिया में आगे बढ़ रहा है हमें उम्मीद है कि आने वाले समय में हमारा ब्लॉग Newsmeto.com भारत के सबश्रेष्ठ हिंदी ब्लॉग में से एक होगा।
Factshop.net ने हमें आमंत्रित किया उसके लिए हम तहे दिल से धन्यवाद देना चाहते हैं और हमारी शुभकामनाएं हैं कि उनका ब्लॉग भी आगे प्रगति करें।

2. आप का blog एक leading blog में से एक है जिसमे लाखों traffic आता है , तोह मेरा सवाल है की आप content idea कैसे ढूंढ़ते हो और keyword research कैसे करते हैं । 

शरुवात में हर ब्लॉगर की तरह हमने भी अपनी इच्छा अनुसार किसी भी टॉपिक पर आर्टिकल लिखना शुरू किया परंतु फिर हमें यह समझ में आया कि हमें उन्हें टॉपिक पर लिखना चाहिए जिसे लोगों द्वारा सर्च किया जाता है ताकि हमारा आर्टिकल उन लोगों तक पहुंच पाए और वह आर्टिकल को पढ़ सके जिससे हमारे ब्लॉग रीडर्स की संख्या में इजाफा हो सके और लोग हमारे ब्लॉग के बारे में जाने।
जैसा कि हमने आपको बताया शरुवात में हम अपने हिसाब से किसी भी टॉपिक पर लिखते थे फिर हमने ट्रेंडिंग टॉपिक ढूंढने के लिए गूगल ट्रेंड, गूगल कीवर्ड प्लानर, और गूगल सजेशन जैसे टूल का इस्तेमाल किया और आज भी हम अधिकतर इन्ही टूल की मदद से अपने ब्लॉग पर आर्टिकल लिखने के लिए टॉपिक ढूंढते हैं और साथ ही चूँकि आज हमें कई सालों का अनुभव हो चुका है तो अपने विश्लेषण से हम उन्ह टॉपिक पर लिखने का प्रयास करते हैं जिसे लोगों द्वारा सर्च किया जाता है।
3. Blogging में अब competition थोड़ा बढ़ गया है इसीलिए success ना पाने के डर से बहोत लोग blogging छोड़ रहे हैं , इसमें आपका क्या ख्याल है ?
यह बिल्कुल सही है, कि आज ब्लॉगिंग में प्रतियोगिता बढ़ चुकी है और समय के साथ यह बढ़ती ही जाएगी इसमें कोई दो राय नहीं है आज एक हिंदी ब्लॉग को गूगल में रैंक होने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है हालांकि एक समय था जब हिंदी आर्टिकल आसानी से गूगल में रैंक हो जाते थे जिसे अच्छा खासा ट्रैफिक मिल जाता था।
परंतु इसका मतलब यह नहीं है कि जिन लोगों ने पहले ब्लॉगिंग शुरू नहीं की थी वह अब नहीं कर सकते क्योंकि इंटरनेट पर अब भी बहुत सारी जानकारी ऐसी है जोकि हिंदी भाषा में उपलब्ध नहीं है इसलिए अब बहुत बड़ी-बड़ी इंग्लिश वेबसाइट भी अपनी हिंदी वर्जन वेबसाइट भी बनाते हैं जहां उन्हें अच्छा खासा ट्राफिक मिलता है।
प्रतियोगिता हमेशा समय के साथ बढ़ती ही जाती है इसलिए जितना जल्दी हो आप अपने ब्लॉगिंग कैरियर को शुरू करें वरना आज जो प्रतियोगिता आपको देखने को मिल रही है आने वाले समय में इससे कहीं अधिक होने वाली है।
4. Blogging में कैसे सफलता हासिल किया जा सकता है ? आपकी इस successful blogging journey में क्या क्या उतर चढ़ाव झेलनी पड़ी ?
ब्लॉगिंग में सफलता प्राप्त करने का सिर्फ एक ही मंत्र है वह ढूंढो जो लोगों द्वारा सर्च किया जाता है और ऐसे लिखे जैसे आप उसके ज्ञानी हैं”
जब हमने ब्लॉगिंग शरू की तब ब्लॉगिंग के बारे में इंटरनेट पर जानकारी तो उपलब्ध थी परंतु ब्लॉगिंग के बारे में स्टेप बाय स्टेप कुछ भी नहीं था हर चीज रैंडम पड़ी हुई थी ऐसे में ब्लॉगिंग को समझना बहुत ज्यादा मुश्किल था और उसके बाद जिन वेबसाइटों से हमने इतनी सारी चीजें सीखी उन वेबसाइटों से पहले अपने आर्टिकल को रैंक करना उतना ही मुश्किल वाला काम था।
और साथ ही कई बार वेबसाइट में कई तरह की प्रॉब्लम आ जाती थी जिनका ज्ञान हमें नहीं होता था इसलिए उन समस्याओं से उबर पाना भी एक बेहद मुश्किल भरा काम था।
5. क्या आप एक full time ब्लॉगर हैं , क्या सबको full time blogger ही बनना चाहिए ?

बिल्कुल, मैं एक फुल टाइम ब्लॉगर हूं और मेरा मानना है कि जिन लोगों को ब्लॉगिंग का अच्छा खासा ज्ञान है और जो इससे पैसा कमा रहे हैं वह फुल टाइम ब्लॉगिंग कर सकते हैं परंतु जो लोग अभी-अभी इस फील्ड में आए हैं और उन्हें अभी ब्लॉगिंग के बारे में आधा-अधूरा ज्ञान है उन्हें अपने आप पर काम करने की आवश्यकता है।

6. ज्यादातर लोग ट्रैफिक ना अनेके कारण blogging छोड़ देते हैं आप उनको क्या सुझाब देना चाहेंगे ?

हर ब्लॉगर चाहता है कि उसकी वेबसाइट पर अधिक से अधिक ट्रैफिक आए परंतु जब आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक नहीं आता है तो आप उदास हो जाते हो और ब्लॉगिंग छोड़ देते हैं अक्सर जो लोग यह सोच कर आते हैं कि वह ब्लॉगिंग को कुछ महीनों करके ही पैसे कमा लेंगे तो वह जल्दी निराश हो जाते हैं।
परंतु ब्लॉगिंग एक ऐसा क्षेत्र है जहां आपको लिखने का शौक होना चाहिए और जब आपको लिखने का शौक होगा तो तभी आप एक लंबे समय तक ब्लॉगिंग कर पाएंगे साथ ही जैसा कि हमने कहा “ब्लॉगिंग में सफलता प्राप्त करने का सिर्फ एक ही मंत्र है वह ढूंढो जो लोगों द्वारा सर्च किया जाता है और ऐसे लिखे जैसे आप उसके ज्ञानी हैं”
7. आप खुद को motivate कैसे करते हो ब्लॉग्गिंग करने केलिए ?

दरअसल, हमारे मोटिवेशन का स्त्रोत आप लोग ही हैं जो हमारी वेबसाइट पर आकर हमारे आर्टिकल को पढ़ते हैं और कमेंट के माध्यम से हमारी प्रशंसा करते व अपनी राय व्यक्त करते हैं जैसे आपने हमें अपनी वेबसाइट पर आमंत्रित किया यह भी हमारे मोटिवेशन का एक स्त्रोत है इसलिए हमारे मोटिवेशन का जरिया हमारी वेबसाइट पर आने वाले रीडर्स है जो हमें हमेशा मोटिवेटेड रखते हैं।

8. आप अपने website केलिए बैकलिंक कैसे बनाते हो , सबसे पहली guest पोस्ट आपने किनके blog पर किया था ?

हमने अपने ब्लॉगिंग के दौरान अधिकतर बैकलिंक शरू में कमेंट ब्लॉग और प्रोफाइल बैकलिंक के द्वारा बनाए थे क्योंकि उसमें बैकलिंक के बारे में काफी सुना था और गूगल भी काफी तवज्जो देता था जिस वेबसाइट के ज्यादा बैक लिंक होते थे।
परंतु आज के समय में हम बैकलिंक बनाने के लिए किसी प्रकार का कोई तरीका नहीं अपनाते हैं हम सिर्फ और सिर्फ अपने कंटेंट को बेहतर से बेहतर लिखने का प्रयास करते हैं इसी कारण हमारे आर्टिकल को लोगों द्वारा शेयर किया जाता है जिससे हमें अपने आप ही बैकलिंक मिल जाते हैं।

9. एक नए blogger को traffic बढ़ाने केलिए क्या क्या करना चाहिए , आप आपकी initial stage पर क्या करते थे traffic बढ़ाने केलिए ?

शरुवात में जब आप अपना ब्लॉग बनाते हैं तो आपका ब्लॉक नया होता है इसलिए उस ब्लॉग को रैंक करना आसान नहीं होता परंतु अगर आप कम प्रतियोगिता वाले टॉपिक पर लिखते हैं जिसके बारे में बहुत कम वेबसाइट द्वारा लिखा जाता है और जिसे लोग द्वारा खोजा जाता है तो आप अपने ब्लॉग पर ट्राफिक ला सकते हैं।
और हमने भी शुरुआती दिनों में इसी तरीकों को फॉलो किया और जब हमारी वेबसाइट NewsMeto.com की वैल्यू गूगल की नजरों में बेहतर हो गई तब हम ट्रेंडिंग टॉपिक पर लिखने गए जिनको बहुत ज्यादा लोगों द्वारा सर्च किया जाता था इस प्रकार हमने शुरुआती दिनों में अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक प्राप्त किया।

10. आपने अपना पहला dollar कब earn किया था ? अगर आप बताना चाहे तोह मेरा एक सवाल और था की अब आप कितना पैसा कमा लेते हैं ?

हमें अपनी वेबसाइट से पैसे कमाने में लगभग एक साल का समय लगा और एक साल तक हमने बिना किसी पैसे कमाएं इस वेबसाइट पर काम किया और आज के समय में हम इतना कमा लेते हैं कि हमें किसी नौकरी को करने की आवश्यकता नहीं है।
और साथ ही हम अपनी वेबसाइट के साथ उन राइटर को भी जोड़ रहे हैं जोकि किसी भी विषय पर बेहतरीन और संपूर्ण जानकारी के साथ आर्टिकल लिख सके तथा जिनको आर्टिकल लिखने का शौक है और आर्टिकल लिखकर पैसे कमाना चाहते हैं इसे आप अनुमान लगा सकते हैं कि ब्लॉगिंग ने हमें कितना दिया है।
11. आपका ब्लॉग india म एक leading blogs में से एक बन चूका है , आपका ब्लॉग तोह बहोत लोगों का favourite है ही पर आपका सबसे favourite blog कौनसा है ?

देखिए हम किसी एक ब्लॉग को फॉलो नहीं करते हैं हमें जो भी जानकारी चाहिए होती है हम उसे सर्च करते हैं और टॉप रिजल्ट में आने वाले ब्लॉग को ही रीड करना पसंद करते हैं।
इसलिए इस हिसाब से देखा जाए तो हम हिंदी के लगभग सभी पॉपुलर ब्लॉग को पढ़ते हैं और हमारी रिसर्च के अनुसार हमने भारत के सबसे पॉपुलर हिंदी ब्लॉग की सूची भी प्रदान की है जिसे न केवल नये ब्लॉगर बल्कि ब्लॉगिंग करने वाले लोगों को भी मोटिवेशन मिलता है।
12. आप हमारे factshop के readers केलिए क्या advice देना चाहेंगे ?

आज के समय में हर कोई वीडियो कंटेंट देखना पसंद करता है जाहिर सी बात है वह प्रैक्टिकल और इतना आकर्षित होता है कि हर कोई वीडियो कंटेंट देखता है परंतु जो नॉलेज आपको किसी आर्टिकल को पढ़ने से प्राप्त हो सकती है वह सबसे उत्तम होता है इसलिए ही वीडियो कंटेंट बनाने वाले भी सबसे पहले बहुत सारे आर्टिकल को रीड करके अपना खुद का स्क्रिप्ट तैयार करके वीडियो कंटेंट बनाते हैं।
जब आप किसी आर्टिकल को पढ़ते हैं तो उसके लिए आपके दिमाग को काम करने पड़ता है जिससे वह जानकारी आपके अंदर जाने लगती है और आपको याद हो जाती है परंतु जब  वीडियो या ऑडियो को देखते व सुनते हैं उसका लोड आपके दिमाग बहुत कम होता है जिस कारण एक पूरा वीडियो और ऑडियो सुनने के बाद भी आपको अधिकतर बातें याद नहीं रहती है इसलिए आप अपनी भाषा के पसंदीदा ब्लॉग को पढ़ना शुरू करें जिससे आपको ज्यादा से ज्यादा फायदा हो सके।

CONCLUSION of Newsmeto.com Interview

 

मैं तय दिल से फिर से Newsmeto.com के founder Mr. HP jhinjholiya का धन्यवाद जरता हूँ। मुझे यकीन है की आपका यह interview बहोत सारे bloggers को प्रेरित करेगा और blogging के बारेमे बहोत कुछ सिखाने में मददगार होगा।

अगर आप मेरे blog पर नए हो तोह मैं आपको बताना चाहूंगा की मैंने इससे पहले भी Htips के founder Mr. Bhupendra lodhi का interview लिया है आप उसे भी चाहे तोह पढ़ सकते हैं। और future में भी और successful bloggers का interview लाता रहूँगा।

Spread the love
Subscribe
Notify of
guest
2 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
riya
riya
1 month ago

Nice information… Good job keep it up… Thanks for sharing.