Hardware क्या है और यह कितने प्रकार के होते हैं

Hardware-क्या-है

कंप्यूटर की बात जब भी आती है सबसे पहले दो बातें हमारे सामने आता है , एक है Software और दूसरा है Hardware। यही दो चीज़ से है computer बनता है। मैं आज आपको इस लेख पर Hardware के बारे मैं कुछ बताने जा रहा हूँ। क्या आपको पता है की एक Hardware क्या है (What is Hardware in Hindi)? कुछ basic जानकारी तोह सबके पास होता ही है के के computer के बाहरी हिस्से को Hardware कहा जाता है।

हमें इस ज़माने मैं computer से जुडी हर बात को पूरी तरह जानना चाहिए क्यूंकि एहि चीज़ो से हम हमेशा घिरे हुए रहते हैं।

आप यह भी सोच सकते हैं की कंप्यूटर के बाहरी हिस्से को हम hardware कहते हैं और अंदर जो होता है उसे software। दोनों ही एक दूजे के बिना अधूरे हैं ,दोनों को operate होने केलिए दोनों का होना ज़रूरी होता है।

चलिए आज के यह लेख मैं आपको Hardware के बारेमे सब कुछ बताऊंगा और यह software से पूरी तरह कैसे linked है इसका भी जबाब देने की कोशिश करूँगा।

Hardware क्या है (What is Hardware in Hindi)

Computer hardware , अगर नाम से इसका परिभाषा निकलने की कोशिश की जाए तोह पता चलता है की यह कंप्यूटर का का कोई part जो की hard है उसे हम hardware कहेंगे। जी हाँ , हर वह part जो computer से जुड़ा हुआ होता है और हम उसे physically देख और छू सकते हैं उसे हम Hardware कहते हैं

उदहारण के तौर पे मान लीजिये एक keyboard जिसके बिना की हम computer से कुछ करा नहीं सकते ,उसे हम छू भी सकते हैं और देख भी तोह यह एक हार्डवेयर हो गया। ठीक वैसे ही Mouse ,monitor,Motherboard,Speakers etc भी एक एक Hardware है जिनके बारे मैं हम निचे पढ़ने वाले हैं।

अब बात करते हैं की एक Hardware क्यों अधूरा होता है एक software के बिना और vice-versa। चलिए इसे समझते हैं एक example से। Computer monitor को ही ले लीजिये ,हम जब भी कुछ command देते हैं उसका जवाब screen पर कैसे display होता है ? यह सब मुमकिन हो पाता इसके अंदर पहले से ही encrypt किया हुआ software के वजह से।

ठीक उसी तरह एक hardware के बिना भी software कुछ काम का नहीं है ,गाडी मैं पहिया ही नहीं तोह गाडी किस कामका।

Hardware के प्रकार क्या है (Types of Hardware)

अब टेक्नोलॉजी बहोत ही advanced ही चूका है इसीलिए हम hardwares को इस्तेमाल करने के बाद भी सबको देख नहीं पाते क्यों की सब काम अब Desktop से ज्यादा Laptop मैं हो रहे हैं। पर laptop के अंदर भी वही same hardwares होते हैं but वह compact form मैं होते हैं।

Basic हरद्वारेस की बात करें तोह इनको हम 3 भाग मैं बाँट सकते है।

  1. system Hardware
  2. Input Hardware
  3. Output Hardware

चलिए सबके बारे मैं अच्छे से जानते हैं।

>Motherboard की पूरी जानकारी 

>CPU की पूरी जानकारी 

>RAM की पूरी जानकारी 

1. System Hardware

कुछ इसतरह के भी hardwares होते हैं जो की कंप्यूटर के अंदर fit होते हैं उसे हमे देखने केलिए कंप्यूटर को खोलना पड़ता है। यह कंप्यूटर के main hardwares होते है जो की responsible होते है सारे processing and performance के काम मैं।

सबसे पहला नाम आता है Motherboard।

Motherboard

Motherboard कंप्यूटर का वह हिस्सा होता है जो की कंप्यूटर को उसके hardwares से और power-supply units से एक एक dedicated slot के साथ जोड़ता है। इसके मदद से ही हम एक computer को on-off कर सकते हैं। Motherboard कोई specific electronics पार्ट नहीं बल्कि बहोत सारे units से बना एक ढांचा है जो की एक aluminium के case के अंदर होता है।

चलिए इसके कुछ और hardware के बारे मैं discuss करते हैं।

CPU

CPU जिसे हम कंप्यूटर का दिमाग कहते हैं। यह भी एक hardware है इसे हम physically touch कर सकते है। CPU एक micro-processor है जो की बाना हुआ है एक metal-oxide semiconductor chip से। यह अकेले ही सारा processing process को handle कर्तन जिसके वजह से heat generate भी होता है और इसके लिए इसके अंदर cooling-units भी embed किये हुए होता हैं।

RAM

RAM कंप्यूटर का सारा data को temporarily store करके रखने में मदद करता है ताकि जब कोई user इसे access करना चाहे तोह within no time उसे वह मिल जाये। इसके काईन तरह के varieties of sizes मैं मिलते हैं।

ROM

ROM मदद करता है BIOS को स्टोर करने मैं ताकि जब Computer को power source मिल यह boot process मैं काम आ सके।

SMPs

SMPS (Switch-mode Power supply) यह एक case होता है जिसमे की बहोत सारे slots होते हैं। इसका main function है computer के है parts को अच्छे से power supply करना dedicated slots के मदद से।

 

2. Input Hardware

Computer को command देने मैं जी जिन Hardware का ज़रूरत पड़ता है उन्हें हम Input unit कहते हैं। इनका काम होता है अलग अलग ways मैं computer के अंदर data input करना। इस तरह के hardwares mainly कंप्यूटर के external hardwares होते हैं जिन्हे हम देख भी सकते हैं।

Keyboard
Keyboard को हम कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण input device मानते हैं क्यों की इसके सहारे हम binary language में computer मं command input करते हैं। जितने भी लिखने वाले काम होते हैं वह सब हम keyboard मैं ही कास सकते हैं।

यह सबसे ज्यादा use होने वाला hardware मैं से एक है।

Mouse

Mouse एक pointing device है। हमे जब computer के किसी dedicated file को चुनना होता है तब mouse cursor के मदद से उसे select करते हैं। माउस मैं बहोत सारे movements जैसे की Up-Down, Left-Right होते हैं।

यह CMOS sensor के मदद से movement को capture करता है और इसे electric signal में convert कर कंप्यूटर तक पहँचाता है।

Scanner

Scanner एक input device है जो की एक USB के through कंप्यूटर से जुड़ा हुआ होता है। किसी भी picture या फिर code को scan कर इसका एक imitation बनाकर कंप्यूटर पर input करता है।

यह ज्यादा तर दुकानों मैं,security purpose मैं और Offices माँ इस्तेमाल होते हैं।

3. Output Hardware

कंप्यूटर मैं इनपुट किये हुए Data का result को निकलने का प्रक्रिया को Output कहते हैं। और यह जिनके सहारे होता है हम उसे output units Hardware कहते हैं।

Monitor

मॉनिटर एक डिस्प्ले hardware है जो की output को एक picture-video format मैं visually represent करता है user के सामने।

Monitor के बिना computer को इस्तेमाल करना ना के बराबर होता है। यह काईन तरह के होते हैं जैसे की LCD ,LED ,OLED etc।

Printer
Printer हर तरह के written output और image output को एक कागज़ के सहरे user को provide करता है। और यह ही only तरीका होता है किसीभी computer output को physically touch करने का।

Speaker
Speaker एक multimedia device है जो की USB के मदद से connected होता है main device के साथ। इसे सिर्फ multimedia purpose केलिए इस्तेमाल किया जाता है।

Hardware का भबिष्य क्या है (Future of Hardware)

चलती trend के साथ technology भी बढ़ती जा रही है। Hardware मैं भी इसके चलते बहोत सारे developments हो रहे हैं।

पहले जितने भी memory units थे सबको बदल कर Flash memory cards का इस्तेमाल किया जा रहा है , यह पहले के मुकाबले बहोत fast होता है। Virus से बचने केलिए भी new firewall technology से बने Hard-Disks develop किये गए हैं।

उम्मीद है की आने वाले कुछ सालों मैं इतना development हो जाये की Computer मैं सारे के सरे hardwares compact होकर एक single device मैं आ जाये।

CONCLUSION

आशा करता हूँ की मेरा यह लेख Hardware क्या है (What is Hardware in Hindi) आप सबको पसंद आया हो और साथ ही यह भी आशा करता हूँ की मैं आपको इस बिषय के बारेमे समझने मैं काबिल रहा। मन मैं कोई सवाल है या फिर कोई सुधर देखना चाहते हैं तोह please comment box मैं अपना opinion ज़ाहिर करें।

Hardware क्या है के बारेमें अगर आप किसी और भी idea देना चाहते हैं तोह यह लेख को share कर दीजिये ताकि यह भी उनतक पहंच पाए और वह पढ़ सके।

धन्यबाद

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments